Hindi remedies to control hair fall / hair loss

बालों का गिरना सबके लिए आम समस्या हो गयी है। बालों का गिरना अगर बंद ना किया जाए तो आगे जाकर गंजापान हो सकता है। बाल गिरने का कारण, बालों के गिरने के कई कारण हैं जैसे हॉर्मोन का असंतुलन, थाइरोइड ग्रंथि की समस्या, सर की त्वचा में संक्रमण, तैलीय बाल और रुसी। बालो का झड़ना रोकने के उपाय :-

what is i pill and how to use i pill

बाल गिरने के कारण (Reasons for hair fall)

  • थाइरोइड – थाइरोइड ग्रंथि शरीर में टी3 और टी4 जैसे हॉर्मोन पैदा करते हैं जो शरीर में हॉर्मोन के स्तर का नियंत्रण करते हैं। थाइरोइड के ग्रंथि कम काम करना या ज्यादा काम करना टी3 और टी4 के स्तर को अनियंत्रित करता है।
  • सर की त्वचा का संक्रमण – सर की त्वचा में कवक का संक्रमण हो सकता है जो बालों की जड़ कमजोर करता है और बाल गिरने का कारण होता है।
  • रुसी -रुसी एक प्रकार का कीटाणु का संक्रमण है जो बालों के जड़ को हानि पहुंचाकर बाल गिरने का कारण होता है।
  • तैलीय बाल – तैलीय बालों में धुल जम जाती है। यह धुल जमकर बालों का गिरना बढ़ा देती है।

अण्डों से स्वस्थ बाल पाने के नुस्खे

  • अन्य कारण – सही आहार न लेना बालों के गिरने का कारण होता है। लोह की कमतरता और गर्भावस्था में बालों का गिरना मुमकिन हो सकता है।

बालों का गिरना रोकने के लिए घरेलू उपचार (Home remedies to control the hair fall / hair loss or baal jhadne se rokne ke upay)

  • 1 कप मेथी के बीज रातभर भिगोकर सुबह उन्हें पीस लें। इसमें 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस मिलाकर यह मिश्रण सर की त्वचा पर लगाएं। बालों को शावर कैप से ढंक लें। 20 मिनट तक रुकें। फिर ठंडे पानी से बालों को धो डालें। मेथी के बीज बालों से रुसी मिटाता है।
  • बाल गिरने का इलाज, एक प्याज निचोड़कर रस निकालें। यह रस सर की त्वचा पर लगाएं। प्याज में सल्फर होता है जो बालों में रक्त का परिसंचरण बढाता है और जड़ों को मजबूती दिलाता है।
  • नारियल का दूध निकालकर अपने सर की त्वचा पर लगाएं। बालों को शावर कैप से ढंक लें। 20 मिनट तक रखकर बाल धो डालें। नारियल का दूध बालों को खनिज देकर मजबूती दिलाता है।
  • नीम एक प्राकृतिक आयुर्वेदिक औषधि है। नीम के पत्तों को पानी में उबाल लें। पानी आधा रहने तक उबालें। इस पानी से अपने बाल धो डालें।
  • ग्रीन टी की 2 थैलियाँ एक कप पानी में उबालकर यह पानी बालों में लगाएं। आधे घंटे तक रखकर बालों को धो डालें।
  • बालो का उपचार, घृत कुमारी बालों के लिए प्राकृतिक औषधी है। घृत कुमारी का अर्क निकालकर बालों पर लगाएं। 20 मिनट तक रखकर फिर धो डालें।
  • आम्ला मसलकर पेस्ट बना लें। 1 बड़ा चम्मच आम्ला पेस्ट और 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस मिलाएं। यह मिश्रण सर की त्वचा पर लगाएं। आम्ला बालों की जड़ों के लिए अच्छा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *